SANSKRITIK SANGAM,Salempur

     DEDICATED TO TRADITIONAL CULTURE AND TO THE ASPIRANT'S FOR ACTING ON STAGE PLAYS,TV SERIALS AND FEATURE FILMS 

DR. ARUNESH NIRAN JI,   डा०अरुणेश नीरन

डा०अरुणेश नीरन 

परिचय
जन्म : 20 जून 1946, देवरिया (उत्तर प्रदेश)

भाषा : हिंदी
विधाएँ : कविता, कहानी, यात्रा वृत्तांत, संस्मरण, रिपोर्ताज, आलोचना, शब्द चित्र, पटकथा, निदेशन

मुख्य कृतियाँ
भोजपुरी वैभव, पुरइन पात, शिव प्रसाद सिंह, हमार गाँव, अक्षर पुरुष, प्रतिनिधि भोजपुरी कहानियाँ
फिल्म : या तरुवर में एक पखेरू (कबीर पर आधारित दो घंटे की फिल्म), वागर्थ का वैभव (पं.विद्यानिवास के जीवन और रचनाक्रम पर आधारित)
संपादन : अज्ञेय शती स्मरण, सेतु और नांदी, अज्ञेय शती स्मरण, भोजपुरी के अमर लोकगीत (चार खंड : जीवन चक्र, ऋतु चक्र, श्रम चक्र, भक्ति चक्र श्रृंखला के लेखक, निदेशक, प्रस्तुतकर्ता)  

सम्मान
कर्मयोगी सम्मान, विद्यासागर सम्मान, भोजपुरी गौरव सम्मान, अकादमी सम्मान (बिहार के राज्यपाल द्वारा), बिहारी वैभव सम्मान  

संपर्क
आवासीय लेखक, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, गांधी हिल्स, वर्धा-442005

फोन
91-9451460030

ई-मेल

 
हिंदी समय में अरुणेश नीरन की रचनाएँ

कहानियाँ 
तोता सुकुल
कविताएँ 
जतरा
आलोचना 
अज्ञेय के निबंध : ‘मृण्मय के द्वारा चिन्मय की खोज’
संस्मरण 
कुशीनगर में अज्ञेय
पक्षी-आत्मा
निबंध 
ललित निबंध और हिंदी गद्य
लेख 
गाँवों के संघर्ष और मूल्य स्थापना के स्वर
जनपदीय भाषाएँ, हिंदी से अंतर्संबंध और अंतर्विरोध तथा आंचलिकता की आधुनिकता
बादलों को उतरने के लिए थोड़ी जगह दें
लेखक सूची पर वापस जाएँ
मुखपृष्ठ उपन्यास कहानी कविता व्यंग्य नाटक
Google+:Google+